बुद्धिमान कैसे बने | हम बुद्धिमान कैसे बन सकते है

बुद्धिमान कैसे बने – आप ने अगर यह सर्च किया है की “बुद्धिमान कैसे बने(buddhiman kaise bane)” तो आपने बुद्धिमान बनने के लिए कुछ सफर तो तय ही कर लिया है, क्योंकि बुद्धिमान लोग हमेशा असलियत में जीते है, आपने यह माना है की आपको बुद्धिमान बनने की जरुरत है तो आपने भी असलियत को स्वीकार किया है, इसलिए मेरा कहना है की आपने बुद्धिमान बनने का का कुछ सफर तय कर लिया है।

ऐसा कहा जाता है की कुछ लोग जन्म से बुद्धिमान होते है, और कुछ लोग कम बुद्धि के पर दोस्तों यह पूरा सच नहीं है, कुछ ऐसे बच्चे होते है जो जन्म से ही बहुत बुद्धिमान होते है ऐसे लोग जीनियस होते है जिनके अंदर कुछ विशेष बात होती है और कुछ डब्बू जो थोड़े काम अक्कल होते है जिन्हे कोई भी बात आसानी से समझ नहीं आती।

पर ज्यादातर जो लोग होते है वो सामान्य होते है मतलब न बहुत ज्यादा जीनियस और ना डब्बू ये वो होते है जो उनके वातावरण परवरिश ,उनके जीवन में घटी घटनाओ के अनुसार या तो बुद्धिमान बन जाते है या डब्बू, जैसे आपने बच्चो को देखा होगा की कुछ बच्चे पढ़ाई में अच्छे होते है, कुछ खेलकूद में कुछ कम पढ़े लिखे भी बहुत अच्छे व्यपारी होते है।

जिसका दिमाग जिसमे लग जाता है, वह अपना ध्यान उधर लगा लेता है, इसका मतलब तो यही है की बुद्धिमान का मतलब पढ़ाई में तेज होने से नहीं है, और इसका मतलब यह भी नही है की आप एक अच्छी नौकरी कर रहे हो तब बुद्धिमान माना जायेगा, बुद्धिमान होने से मतलब हे आप जहा है जैसे वही जीवन में तरक्की करे, सब आपकी बात माने आपको कोई बेवकूफ ना बना पाए

बुद्धिमान कैसे बने

बुद्धिमान बनने के उपाय | बुद्धिमान कैसे बने

1. सभी काम परफेक्शन से करे

बुद्धिमान व्यक्ति जो भी काम हाथ में लेते है, वो उसे पूरा करते है और सिर्फ पूरा ही नहीं करते, पुरे परफेक्शन के साथ करते है, यदि आप भी बुद्धिमान बनना चाहते है तो जो भी जिम्मेदारी आपको दी जाए आप उसे बहुत ही जिम्मेदारी से करे, जब आप सारे काम बहुत जिम्मेदारी और परफेक्शन के साथ करते हो तो आपकी इमेज एक इंटेलिजेंट व्यक्ति की बन जाती है।

वंही अगर आप हर काम में टाल मटोल करते हो कोई भी काम सही तरीके से नहीं करते हो तो आपकी इमेज सभी के सामने एक नासमझ इंसान की बन जाती है, आपको जिम्मेदारी निभाने और किसी भी काम को परफेक्शन से करने की ऐसी आदत डालना चाहिए की आपको किसी भी जगह कोई भी काम दिया जाए तो वह परफेक्शन से करे जैसे – आप के परिवार में कोइ शादी का काम हो या ऑफिस में दिया गया कोई काम सभी जिम्मेदारियों को इस तरह निभाए की आपकी इमेज एक बुद्धिमान के रूप में बन जाए।

2. बुद्धिमान ज्यादा सवाल पूछते है

बुद्धिमान व्यक्ति ज्यादा सवाल पूछते है, बुद्धिमान व्यक्ति अपने सारे डाउट क्लियर करते है, उन्हें जब तक कुछ समझ नहीं आता या कोई बात पूरी तरह क्लियर नहीं होती वह सवाल पूछने में हिचक नहीं करते जब आप अपनी स्टूडेंट लाइफ में होंगे तो आपके साथ भी कुछ ऐसे स्टूंडेट रहे होंगे जो बहुत सवाल पूछते थे, वह सवाल पूछ पूछ की अपने सारे डाउट क्लियर कर लेते है, जबकि कुछ स्टूडेंट ऐसे भी रहते है जो पढ़ाई में उनसे ज्यादा अच्छे होते है, पर वह सवाल पूछने में हिचकिचाते है, सवाल पूछने वाले आगे निकल जाते है क्योंकि वो ज्यादा सवाल जरूर करते है पर कुछ भी डाउट नहीं रखते है, इसलिए एग्जाम में उनके अच्छे नंबर आते है।

3. जल्दबाज़ी या हड़बड़ी नहीं करते

बुद्धिमान व्यक्ति हमेशा कूल माइंड रहता है वो ज्यादा हड़बड़ी नहीं करता वो अपना सारा ध्यान वही लगाता है जो काम वो कर रहा है, जबकि दब्बू व्यक्ति एक ही वक़्त में बहुत सारे काम करने के बारे में सोचते है वो काम कुछ और कर रहे होते है और सोचते किसी और काम के बारे में इसलिए उनका कोई भी काम ठीक तरह से नहीं होता, बुद्धिमान व्यक्ति पहले एक काम को अच्छी तरह करते है, फिर वो दूसरे काम के बारे में सोचते है।

4. बुद्धिमान व्यक्ति पहले प्लानिंग करते है

किसी काम को जब योजनाबद्ध तरीके से किया जाता है तो सक्सेस होने के चांस बहुत ज्यादा बढ़ जाते है, और जब कोई काम बिना किसी प्लानिंग के करते है तो वो काम इतने अच्छे से नहीं हो पाता, बुद्धिमान व्यक्ति किसी भी काम को करने से पहले पूरी प्लानिंग करते है, और उसी प्लानिंग के अनुसार अपने काम को करते है और सफल होते है, जब कोई भी काम बिना प्लानिंग के करते है तो वह काम उतने परफेक्शन से नहीं हो पाता।

5. बुद्धिमान व्यक्ति को बुद्धिमान होने का घमंड नहीं होता है

बुद्धिमान व्यक्ति को अपने ऊपर विश्वाश जरूर होता है, पर उन्हें अपने पर अतिविश्वास नहीं होता, वह कभी भी अपने को इतना बुद्धिमान नहीं मानते की उन्हें कोई भी बेवकूफ नहीं बना सकता, वो हमेशा कोई भी काम सोच समझकर करते है, कभी भी वह अति आत्मविश्वाश में नहीं आते, जब आपको यह घमंड हो जाता है की आप बुद्धिमान है हर काम परफेक्ट करते है, आपको कोई बेवकूफ नहीं बना सकता, तभी आप अपनी होशियारी और चालाकी से काम लेना बंद कर देते है, और अपनी बुद्धिमानी खो देते है, इसलिए अपने आप को बुद्धिमान मानना अच्छी बात है पर इस बात घमंड नहीं करना चाहिए।

चतुर चालाक कैसे बने तरीके

Conclusion – बुद्धिमान कैसे बने

बुद्धिमान बनना इतना मुश्किल भी नहीं है, आप थोड़ा सा सजग और सतर्क रहकर, अपने दिमाग का इस्तेमाल करके बुद्धिमान बन सकते है, हमारे बताये गए उपाय को भी अपनाये जो आपको बुद्धिमान बनने में बहुत ही मदादगार साबित होंगे,

दोस्तों आपको हमारा आर्टिकल कैसा लगा हमे कमेंट करके जरूर बताये और इसे अपने दोस्तों के शेयर भी कर सकते है धन्यवाद

Leave a Comment