अध्ययन स्थान : बच्चो का स्टडी रूम कैसे सजाये (100% तरीके)

दोस्तों आज हम स्टडी रूम के बारे में बात करने जा रहे है आज का आर्टिकल है कि, “बच्चो का स्टडी room कैसे सजाये”. क्या आपको लग रहा है कि, आपका बच्चा ढंग से पड़ नहीं पा रहा है या जब आपका बच्चा बिस्तर पर पढता है तो वो ज्यादा आलसपन महसूस करता है. हो सकता है कि, आपके बच्चो को डिस्टर्बेंस ज्यादा महसूस हो रहा हो जिस वजह से वो पढाई में मन नहीं लगा पा रहा हो. ऐसे में आपको एक बेहतरीन अध्ययन स्थान ढूंडना चाहिये. कुछ अध्ययन से ये बात साबित होती है कि, बच्चो को पढाई के लिये एक शांत माहोल की जरुरत होती है और शांत माहोल तभी मिल सकता है जब बच्चो के लिये स्टडी रूम हो.

तो अब आपकी परेशानियो का समाधान एक स्टडी रूम तैयार करना है. इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे तरीके बतायेंगे जिसकी मदद से आप एक कमरे को completely अध्ययन कमरा बना सकते हो.

अध्ययन स्थान : बच्चो का स्टडी रूम कैसे सजाये (100% तरीके)

Decorate Study Room In Hindi

स्टडी रूम के लिये जरुरी बाते

आपको पता तो लग चूका है कि, बच्चो को अच्छी पढाई provide करवाने के लिये स्टडी रूम होना चाहिये. पर इसके साथ साथ आपको ये भी पता होना चाहिये कि, study room होना कैसा चाहिये. निचे हमने कुछ बाते बताये है इन्हें पढ़े.

1. स्टडी रूम अलग होना चाहिये

हमारे parents अक्सर स्टडी रूम को ये समझ लेते है कि, बस पढाई करने के लिये एक जगह चाहिये होती है और वो जगह कही पर भी हो सकती है जैसे कि :- बेडरूम में, हॉल में, छत में, बालकनी में या किसी और कमरे में. पर क्या आपको लगता है कि, ऐसी जगहों पर आपके बच्चे अच्छे से पढ़ पायेंगे. हमे तो नहीं लगता क्योंकि इस जगहों पर अक्सर डिस्टर्बेंस होती ही होती है. आपको ये समझना होगा कि, study room का मतलब एक पूरी जगह होती है मतलब एक कमरा.

2. शांत जगह हो

अब आप समझ गये होंगे कि, स्टडी रूम एक अलग कमरा होता है. पर इसके साथ साथ आपको ये भी पता होना चाहिये कि, जो कमरा आप स्टडी रूम के लिये चुके वो शांत जगह वाला होना चाहिये.

3. Electronic Gadgets ना हो

आजकल के time में फ्लैट (मकान) बहुत congested वाले मिलते है और ऐसे में अगर आप अपने बच्चो के लिये स्टडी रूम provide करवाते है तो हम समझ सकते है कि, आप कितनी congested महसूस कर रहे है. ऐसे में अक्सर parents घर का space बचाने के लिये स्टडी room में electronic गैजेट्स रखवा देते है जैसे कि :- TV, मोबाइल, tablets या computer.

पर क्या आपको पता है कि, आपके इस डिसिशन का बच्चे बहुत फायदा उठाते है. एक रिसर्च ये दावा कर चूका है कि, अगर बच्चे के आसपास इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स रखा हुआ हो तो बच्चे पढाई की तरफ कम और गैजेट्स पर ज्यादा ध्यान देते है. तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा.

बच्चो के लिये Study Room

तो दोस्तों आईये अब बात करते है कि, बच्चे के स्टडी रूम में क्या क्या होना चाहिये. निचे हमने कुछ तरीके बताये है इन्हें पढ़े और हमे फॉलो करे.

1. Study Table और Chair

माना जाता है कि, पढाई करने के लिये जगह comfortable होनी चाहिये. Comfortable जहग के साथ साथ comfortable टेबल और चेयर होनी चाहिये. पर क्या आपको पता है कि, ज्यादा comfortable के चक्कर में आपके बच्चे अपना ध्यान खो बैठते है या आलसपन महसूस करते है.

आपको ये तो पता है कि, पढाई के लिये table और chair की जरूरत होती है पर आपको ये भी पता होना चाहिये कि, किस तरह की table और chair होनी चाहिये. देखिये अगर table की बात करे तो आपको उचा table चुनना चाहिये और निचे से table खुल्ला होना चाहिये. उचे table में बच्चे गिरने के डर से सतर्क रहते है और अपना फोकस अध्ययन में लगाये रखते है.

2. Perfect Lights

स्टडी रूम में lights का बहुत बड़ा योगदान रहता है. देखिये dim light आपके दिमाग में तनाव पैदा करता है और तेज light आपकी आखो को खराब करता है. तो ऐसे में आपको सही light का चुनाव करना होता है. अगर आपके स्टडी रूम में नेचुरल रौशनी आती है मतलब धुप तो आपको इस रौशनी का ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिये. रात के वक्त आप डेस्क लैंप का उपयोग करे.

3. Books के लिये अलमारी

किताबो का इधर उधर पढ़े रहना आपके बच्चो को बाद में ढूंडने में परेशानी पैदा करता है. कभी कबार तो इमरजेंसी में कोई किताब ही नहीं मिलती जिस वजह से बच्चे बहुत तनाव महसूस करते है. तो अपने बच्चो का काम हल्का करने के लिये आप उनके स्टडी रूम में एक अलमारी रख दे, जिस में बच्चे अपनी पूरी किताबे रख सके. अलमारी में बहुत जगह होती है और आपके बच्चो की किताबे कम तो ऐसे में आप अपने बच्चो के लिये और भी knowledge वाली किताबे रख सकते है जिनको बच्चे फ्री टाइम में पढ़ सके.

4. एक घडी

स्टडी रूम में एक घडी रखे ताकि आपके बच्चो को पता लग सके की वो कितने वक्त से पढ़ रहे है. एक घडी आपके बच्चो को याद दिलाने में मदद करेगी कि, आपको अपना काम कितने वक्त में खत्म करना है. एक घडी की मदद से आपके बच्चे अपने task को पूरा करने में कामयाब हो सकते है.

5. White Board

अगर आपके बच्चे white board लगाने से माना कर रहे है या आपके बच्चे वाइट बोर्ड भूल गए है तो आपको स्टडी रूम में white board लगाना चाहिये. white board बहुत चीजों में मदद करता है जैसे कि :- आप वाइट बोर्ड में बच्चो के पुरे दिन का task (बच्चो ने pure दिन क्या क्या करना है) लिख सकते हो. अगर आपको लगता है कि, आपके बच्चे बहुत सी बातो को भूल जाते है तो आप white board में वो बात लिख सकते हो.

तो दोस्तों आपको हमारा ये वाला आर्टिकल कैसा लगा, हमे बताने के लिये comment करे. दोस्तों हमारे साथ बने रहने के लिये thanks.

Leave a Comment