Self Motivation in Hindi | खुद को मोटिवेट कैसे रखें ?

नमस्कार दोस्तों, आज के हमारे इस लेख के अंदर हम आपके साथ में शेयर करने वाले हैं एक बहुत ही बेहतरीन topic के बारे में जो है self motivation in Hindi तो दोस्तों चलिए शुरू करते हैं,

दोस्तों जैसे हमको हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए और एक्टिव रखने के लिए हमको खाने की जरूरत होती है उसी तरह से हमारे माइंड को अच्छा रखने के लिए या फिर स्वस्थ रखने के लिए हमको मोटिवेशन की जरूरत होती है, जो समय समय पर हमारे दिमाग को स्कैन करता है और हमको आगे बढ़ने के लिए या फिर समस्या का सामना करने के लिए प्रेरित करता है।

Self motivation in Hindi

Self motivation क्यों जरुरी है ? – Self motivation in Hindi

हम सभी लोगों के जीवन में ऐसी परिस्थितियां आती है जब हम पूरी तरह से डिमोटिवेट हो जाते हैं और फिर उस समय हमको लगता है कि अब सब कुछ ही खत्म हो गया है, अब मैं कुछ नहीं कर सकता हूं, मेरा जीवन पूरी तरह से बर्बाद हो गया है, हमारे मन में ऐसे ख्याल आने लग जाते हैं उस समय अगर आपके पास में कोई ऐसा मोटिवेशन हो जो आप को प्रेरित करें उस समस्या से लड़ने के लिए, आज हम उसी की बात इस लेख के अंदर करने वाले हैं।

जब भी हम किसी काम की शुरुआत करते हैं तो उस समय हमारे अंदर बहुत ज्यादा जोश होता है लेकिन धीरे-धीरे जब वह काम हमारे अनुसार नहीं होता है या फिर उस काम के अंदर कोई समस्या आ जाती है तो हमारा मोटिवेशन कम होता चला जाता है और उस काम से हमारा मन पूरी तरह से हटता चला जाता है, इस बात को आप में से बहुत लोगों ने जीवन में कभी न कभी जरूर महसूस किया होगा।

इस दुनिया में जो लोग असफल होते हैं उसका सबसे बड़ा कारण यह होता है कि वह काम को बीच में ही छोड़ देते हैं और पूरी तरह से डीमोटिवेट हो जाते हैं,और उनके अंदर एक ऐसा डर आ जाता है जिसकी वजह से वह उस काम को जीवन में कभी भी दोबारा करने की हिम्मत नहीं कर पाते हैं।

अब तक हमने बात की है की सेल्फ मोटिवेशन क्यों जरूरी होता है ? लेकिन अब हम बात करने वाले हैं कि खुद को मोटिवेट कैसे रखें?

खुद को मोटिवेट कैसे रखें ? self motivation in Hindi

1. एक काम को लगातार करने की आदत बनाएं।

दोस्तों लक्ष्य निर्धारण करना जरूरी होता है लेकिन उससे भी जरूरी होता है उस काम को लगातार करना जब भी हम किसी भी काम की शुरुआत करते हैं तो हम सोचते हैं कि इसका परिणाम हमको आज ही मिल जाए लेकिन ऐसा नहीं होता है, किसी भी काम में समय जरूर लगता है।

अब जब आप कोई भी काम कर रहे होते हैं उस काम में एक समय ऐसा आता है, जब वह काम आपके अनुसार हो रहा होता है लेकिन एक समय ऐसा भी आता है जब वह काम आपके अनुसार नहीं हो रहा होता है लेकिन जब काम आपके अनुसार होता है, उस समय आप उस काम को करते रहते हैं लेकिन जब वह काम आपके अनुसार नहीं होता है तो आप उस काम को करना छोड़ देते हैं,

दोस्तों यहां पर सोचने वाली बात है यह है कि जब आप उस काम को करना ही छोड़ देंगे तो उस काम का परिणाम आपके अनुसार कभी भी नहीं आएगा अगर आपको जीवन में सफल होना है तो आपको अपने काम को लगातार करते रहना होगा अगर कोई काम एक तरीके से नहीं हो रहा है तो अपने काम को मत बदलो या अपने लक्ष्य को मत बदलो बल्कि उस लक्ष्य को पाने के तरीकों को बदलो।

2. सफल लोगों की असफलताओं को पढ़ना सीखें

जब आप दूसरे लोगों की असफलताओं को पढ़ना शुरू करते हैं तो आपके अंदर एक मोटिवेशन आता है आपके अंदर एक हिम्मत पैदा होती है कि मैं भी इस काम को कर सकता हूं।

दोस्तों इस दुनिया में जितने भी लोग सफल हुए हैं उन्होंने अपने जीवन में बहुत बड़ी बड़ी असफलताओं को सहन किया है लेकिन वह सफल सिर्फ इस वजह से हुए हैं कि उनके अंदर आगे बढ़ने का जुनून था, वो बार-बार असफल हुए लेकिन उन्होंने कभी भी अपनी राह को नहीं बदला और उन्होंने एक दिन सफलता को हासिल किया इसलिए आपको उन सफल लोगों को तो पढ़ना ही चाहिए लेकिन उन सफल लोगों की असफलताओं को भी पढ़ना चाहिए और उनकी गलतियों से सीखना चाहिए क्योंकि जो उन्होंने गलती की है हो सकता है कि आप उन गलतियों को ना करें।

अगर आप कोई भी काम कर रहे हैं तो उसमें गलतियां होने की संभावना बहुत ज्यादा होती हैं अगर आपको पता लग जाए कि किस काम में किस गलती को नहीं करना है तो आपके सफल होने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाती है।

3. खुद की तुलना दूसरों के साथ करना बंद करें

एक इंसान के डिमोटिवेशन का सबसे बड़ा कारण यही है कि वह हमेशा खुद की तुलना दूसरों के साथ करता है जिसकी वजह से वह खुद को कमजोर महसूस करता है अगर कोई इंसान आपसे skill में थोड़ा सा ज्यादा है और आपकी skill उससे कम है तो आप वहीं पर यह डिमोटिवेट हो जाते हैं और आप सोचते हैं कि मैं इस काम को कभी भी नहीं कर सकता हूं।

उस समय आपको एक बात हमेशा याद रखना और खुद को बोलना है कि भले ही इस काम को मैं आज नहीं कर सकता, लेकिन इसको मैं धीरे-धीरे सीख लूंगा और इस काम को बहुत ही अच्छे तरीके से भी कर लूंगा।

जब हम खुद की तुलना दूसरों के साथ करते हैं तो हम अपना मोटिवेशन भूल जाते हैं और हम पूरी तरह से निराश और हताश हो जाते हैं हमको समझ नहीं आ रहा होता है कि अब हमको क्या करना है इसलिए जीवन में आगे बढ़ने के लिए तभी भी खुद की तुलना दूसरों के साथ ना करें।

4. गलतियां करने से ना डरे

गलतियों के बारे में अक्सर एक बात कही जाती है कि गलतियां इंसान का सबसे बड़ा गुरु होती है जब भी हम कोई भी नया काम करते हैं तो हम हमेशा उस  काम से डरते हैं असल में हम उस काम से नहीं डरते हैं बल्कि वहां पर गलती होने से डरते हैं।

हम सोचते हैं कि अगर मुझसे गलती हो गई तो पता नहीं क्या होगा, पता नहीं लोग क्या कहेंगे, इस डर से हम कभी भी कोई काम करते ही नहीं है और निराश और हताश हो जाते हैं अगर आप कोई भी नया काम करते हैं तो वहां पर आप से गलतियां जरूर होंगे लेकिन उन गलतियों से कभी डरना नहीं है बल्कि गलतियां करते हुये आपको जीवन में सफलता की ओर बढ़ना होता है।

5. अपने अतीत को भूल कर आज पर ध्यान दें

जाने अनजाने अतीत में हम सभी से गलतियां होती हैं लेकिन अगर आपको आगे बढ़ना है तो आपको अपने अतीत को भूलना ही होगा और अपने आज के ऊपर फोकस करना होगा क्योंकि जो बीत जाता है वह वापस लौटकर नहीं आता है और बीते हुए कल में इंसान जाकर कभी भी अपनी उस गलती को ठीक नहीं कर सकता है।

बीते हुए कल को सुधारना इस दुनिया में किसी भी इंसान के हाथ में नहीं होता है लेकिन अपने कल को बेहतर बनाना हमारे हाथ में होता है, बीते हुये कल को भूलकर अपने आने वाले कल के ऊपर ध्यान दें क्योकि आपका भविष्य पूरी तरह से आपके हाथ में होता है।

दोस्तों हमने आपके साथ में शेयर किया है “Self motivation in Hindi” हमने इस लेख के अंदर आपको बताया है कि खुद को मोटिवेट कैसे रखें ?

ऐसे ही बेहतरीन पोस्ट आपको हमारे इस ब्लॉग के ऊपर देखने को जरूर मिलेगी, इन पोस्ट को अगर आप पढ़ते हो तो आपको एक मोटिवेशन जरूर मिलता है और मोटिवेशन की जरूरत इस दुनिया में हर इंसान को पड़ती है जब आप मोटिवेट रहते हैं तो आप हर समस्या का समाधान बड़ी आसानी के साथ में निकाल सकते हैं अगर आप ये लेख अच्छा लगा तो इसको अपने friends के साथ में शेयर जरूर करें और दोस्तों ऐसे ही कोई पोस्ट आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमको कमेंट करके जरूर बताएं हम आपको लिए अच्छे से अच्छा आर्टिकल लिखने की कोशिश करेंगे। धन्यवाद

Leave a Comment