How to bring Happiness in life in hindi | जीवन में खुशियां कैसे लाएं

Happiness in life in hindi – हम सब अपने जीवन में खुशिया लाना चाहते है हम सब खुशियों के पीछे ही भागते है, पर फिर भी खुश नहीं रह पाते, आप भी अगर अपने जीवन में खुशिया लाना चाहते है, हमेशा खुश रहना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह आये है, आज हम आपको इस आर्टिकल में सब कुछ विस्तार से बताएँगे की खुशी क्या होती है, हम खुश क्यों नहीं रह पाते, और खुश रहने के लिए लिए क्या करना चाहिए तो आइये दोस्तों शुरू करते हे हमारा आर्टिकल “Happiness in life in hindi”

Happiness in life in hindi

खुशिया (happiness) क्या है, हम खुश क्यों नही रह पाते

हममे से ज्यादातर लोगो को पता ही नहीं की खुशिया (happiness) क्या है, हर व्यक्ति ने अपनी life में खुशियों के अलग अलग मापदंड बना रखे है, कुछ लोग happiness को अपने बीते हुए समय में देखते है, और कुछ लोग भविष्य में, किसी को लगता है पहले मेरी लाइफ कितनी अच्छी थी, में ये करता था में वो करता था, कुछ लोगो ने भविष्य में अपने कुछ सपने सजा रखे है, जैसे मेरी नौकरी लग जाए फिर लाइफ सेट है फिर तो life में happiness ही happiness है, कुछ प्यार में पागल है और उन्होंने उसे ही अपनी खुशी मान रखा है जैसे इस लड़की से मेरी शादी हो जाए तो मेरी लाइफ खुशियों से भर जाएगी (Happiness in life in hindi)

भविष्य के बारे में सोचना सही है पर खुश होने के लिए उस पल का इन्तजार करना, या बीते हुए समय को याद करना की में कितना खुश था ये सोचकर अभी दुखी होना दोनों ही गलत है, अगर आप खुश होना चाहते है तो आप को वर्तमान में खुश रहना सीखना होगा और वर्तमान में जीना वर्तमान में अपने आप को खुश रखना ही असली happiness है।

क्योंकि आप जिसके पीछे भाग रहे हो और खुश होने के लिए जिस समय का इन्तजार कर रहे हो और अगर आपने उसे पा भी लिया जो आप चाहते हो, तो क्या आप जिंदगी में इतना संतुष्ट हो जाओगे की आप खुश हो जाओगे अपनी लाइफ में? नहीं, वहा पहुंचकर आपके फिर से नए सपने जन्म लेंगे, फिर से नई महत्वकांक्षाए जन्म लेगी आप कभी भी अपनी life से सतुष्ट नहीं हो सकते, इसलिए खुश होने के लिए भविष्य का इतंजार मत कीजिये आप जहा जिस स्तिथि में है वहा खुश रहना सीखिए तभी आप खुश रह पाओगे।

में बस आपको यह कहना चाहता हु की happiness का सीधा सीधा मतलब है आप वर्तमान में कैसे जीते है, और वर्तमान में अपनी life में happiness कैसे ला सकते है इस बात पर ध्यान दीजिये, खुश होने के लिए किसी समय का इंतजार नहीं करना है (Happiness in life in hindi)

जीवन में खुशियां कैसे लाएं | how to bring Happiness in life in hindi

1 . अपनी दिनचर्या को सही करे

जब हमारी दिनचर्या ही बिगड़ी हुई होती है तो हमारा खुश रहना तो दूर उलटे हम चिड़चिड़े हो जाते है, कोई भी काम समय पर पूरा ना हो पाने के कारन हम गुस्सा करने लगते है, ऐसे आप के काम पेंडिंग होते है जाते है और आपकी लाइफ में टेंशन बढ़ते जाता है, इसलिए आप यदि खुश रहना चाहते है तो अपनी दिनचर्या में सुधार करना बहुत जरुरी है, आप के सुबह उठने से लेकर कोनसा काम कब करना है वो सब आपकी दिनचर्या के अनुसार फिक्स होना चाहिए, जिससे आप आपके काम टाइम पर पूरा कर पाओ, और आप परिवार के साथ भी समय बिता पाओगे।

यदि आपकी दिनचर्या बहुत अव्यस्थित है आप बहुत लेट लतीफ़ हो तो आपको अपनी दिनचर्या सुधारने की बहुत ही सख्त जरुरत है।

2. सुबह जल्दी उठे और कोई वर्कआउट करे

life में happiness के लिए जरुरी है आप अपने एक एक दिन में सुधार करे और दिन अच्छा जाए इसके लिए बहुत जरुरी है की आपके दिन की शुरुवात अच्छी हो, और दिन की अच्छी शुरुवात करने के लिए जरुरी है आप सुबह जल्दी उठे और कोई ना कोई वर्कआउट जरूर करे इससे आपको पुरे दिन के लिए एक एनर्जी मिलती है और आप पुरे दिन तरोताजा महसूस करते हो, सुबह सुबह कोई भी ऐसी एक्टिविटी करना जरुरी है जिससे आपके शरीर में हलचल हो और आपको पसीना आये, बड़े बड़े डॉक्टर और मनोवैज्ञानिक भी सुबह उठने की और वर्कआउट करने की सलाह देते है।

3. दुसरो की लाइफ में ताका झांकी ना करे

कुछ लोगो को अपनी लाइफ से ज्यादा दुसरो की लाइफ में ज्यादा दिलचस्पी होती है, की इसकी लाइफ में क्या चल रहा है उसकी लाइफ में क्या चल रहा है, जिन लोगो को ये आदत होती है उनका मन हमेशा अशांत रहता है, और दुसरो की लाइफ में इतनी ताका झांकी करने के कारन ये अपनी लाइफ को अच्छे से नहीं जी पाते और कही ना कही इनकी खुद की लाइफ डिस्टर्ब हो जाती है।

जिंदगी में अगर खुश रहना है तो दुसरो की जिंदगी में क्या चल रहा है वो जानने के बजाये अपने आप पर ध्यान दीजिये अपनी जिदंगी को बनाने में वक़्त लगाइये और सिर्फ खुद से मतलब रखिये दुनिया से नहीं।

4. खुद की प्रोग्रेस पर धयान दीजिये

अपनी लाइफ में हमेशा आगे बढ़ने के प्रयास करते रहिये, कुछ नई स्किल्स सीखिए जिस फील्ड में है उसके बारे में खुद को अपडेट रखे, जब आप खुद पर फोकस करते है, खुद को आगे बढ़ाने के लिए मेहनत करते है तो इस काम की छोटी छोटी प्रोग्रेस से भी आपको बहुत ख़ुशी मिलती है, आपको लाइफ में क्या अचीव करना है, आप क्या पाना चाहते है उस दिशा में हमेशा आगे बढ़ते रहे।

5. खुद को मजबूत बनाये

लाइफ हमेशा एक जैसे नहीं चलती सुख और दुःख दोनों ही जिंदगी का हिस्सा है, कभी हमारी लाइफ में सबकुछ अच्छा ही अच्छा होता है और कभी ऐसा भी होता है की कुछ भी अच्छा नहीं होता पर दोनों ही स्थति स्थाई नहीं है सुख भी आएगा और परेशानीया भी, इसे जिंदगी का हिस्सा माने और और अपने आपको शांत रखे। सुख के दिनों को अच्छे से एन्जॉय करे और परशानी के समय पर भी अपने चेहरे पर एक मुस्कान रहे और रिलेक्स रहे।

6. खुद को माफ़ करे और आगे बढ़े

कभी हमसे कोई गलती हो जाती है, जिससे हो सकता है हमारा कुछ नुक्सान भी हुआ हो, ऐसा होने के बाद अक्सर लोग बस यही सोचते रहते है की गलती हो गई में ऐसा करता तो ये नहीं होता है, और खुद को कोसते रहते है और बार बार अपनी गलती को याद करते है और पछताते रहते है, पर एक बात याद रखिये की खुद को कोसने से या पछताने से जो हो गया है वो कभी सही नहीं होगा समस्या जो की तो बनी रहेगी, अब समय है की उस समस्या का समाधान ढूंढा जाए ना की जो हो गया उसका रोना रोया जाए।

इसलिए जो हो गया उस पर अपने आप को कोसना बंद करे और उसके समाधान की तरफ ध्यान दे की इसके बाद हम क्या कर सकते है, और अपनी गलती पर बहुत ज्यादा पछतावा भी ना करे गलतिया इंसान से ही होती है उसे भूले और आगे बढ़े, क्योंकि हमसे अक्सर कुछ ना कुछ गलती होगी ही और हम उसका रोना रोते रहेंगे तो लाइफ में कभी भी खुश नहीं रह पाएंगे।

7. दुसरो से ज्यादा उमीदे ना रखे

हम जब किसी के लिए कुछ करते है, किसी की मदद करते है किसी के काम आते है या किसी से हमारे अच्छे व्यव्हार है तो हम ऐसे लोगो से बहुत सी उम्मीदे रखना शुरू कर देते है, और जब जरुरत पड़ने पर ऐसे लोगो से हमे कोई हेल्प नहीं मिलती या वो हमारी सोच के अनुसार व्यवहार नहीं करते तो हमे बहुत बुरा महसूस होता है, और ये बात हमे बहुत हर्ट करती है, इसलिये किसी से भी ज्यादा उमीदे ना करे और आप अगर किसी के लिए कुछ कर रहे हो तो निस्वार्थ भावना से करे बदले में उससे कुछ भी उम्मीद ना रखे वर्ना आपको बहुत तकलीफ होगी।

8. गरीब लोगो की मदद करे

यदि आप थोड़े भी सक्षम है तो कुछ ना कुछ दान जरूर करे और जहा तक हो सके आप खुद ही ऐसे लोगो के पास पहुंचे जो बहुत ज्यादा गरीब है और जिन्हे मदद की जरुरत है, अगर आपने अभी तक नहीं किया है तो एक बार करके देखिये जब आप किसी ऐसे इंसान की मदद करते है तो और उसके चेहरे पर जो ख़ुशी आती है, वो आपको अंदर तक एक शांति देती है आपको बहुत ही सुखद अनुभूति होती है, और जब ऐसे लोगो को हम देखते है तो हमे अपनी लाइफ से प्यार होने लग जाता है, इसलिए अपनी हैसियत के अनुसार कुछ ना कुछ दान जरूर करे या किसी तरह उनकी कोई मदद जरूर करे।

10. खुद की तुलना दुसरो से ना करे

हमारा दुखी रहने का एक सबसे बड़ा कारन है हम खुद की तुलना हमेशा दुसरो से करते है, जैसे वो ज्यादा अमीर है उसकी किस्मत अच्छी है, वो ज्यादा सूंदर है, इसके साथ सबकुछ अच्छा होता है मेरे साथ ही क्यों बुरा होता है, इस तरह हम अपनी तुलना दुसरो से करते रहते है और कही ना कही हम खुद को कमजोर करते जाते है, इससे आपका कॉन्फिडेंस भी कम होता है और धीरे धीरे आप डिप्रेशन के शिकार हो जाते हो।

हर व्यक्ति की अपनी अलग अलग लाइफ होती है और उसके पीछे कुछ ना कुछ कारन होता है, हो सकता है किसी के माँ बाप बहुत अमिर हो तो उनके बच्चो की लाइफ भी वैसी ही हो और आप के माँ बाप उतने अमीर ना हो तो उनकी लाइफ और आपकी लाइफ अंतर रहेगा ही ऐसे कई कारन हो सकते है दुसरो की लाइफ और आपकी लाइफ में, और तुलना करने से आप उनके बराबर नहीं हो जाओगे जो आप हो वही रहोगे।

खुद की तुलना करना है तो खुद से ही करो हमेशा अपने आप को एक कदम आगे बढ़ाये खुद को अपडेट करे और हो सकता है धीरे धीरे आप वो सब कुछ हासिल करलो जो आप हासिल करना चाहते हो या उनसे भी आगे निकल जाओ जिनसे आप खुद की तुलना करते थे पर यह एकदम से नहीं होगा धीरे धीरे होगा और इसके लिए आपको खुद को आगे बढ़ाना होगा और खुद की तुलना खुद से करनी होगी कल में क्या था और आज क्या हु।

11. अपनी खुशी का कारन अपने पास रखो

हम अपनी जिंदगी में दूसरे लोगो को इतना महत्व दे देते है, की हमारी खुशी का कण्ट्रोल उनके पास चला जाता है, यदि उनका मूड ख़राब है और वो आपसे बात नहीं कर रहे तो आप दुखी हो जाओगे, कोई आपसे रूठ गया, कोई आपको छोड़कर चला गया, किसी ने धोखा दे दिया, और इन सबके के कारन आप की ख़ुशी चली गई आप दुखी हो गए अगर आप दुसरो के व्यवहार दुसरो के अपनी जिंदगी में आने जाने के करना दुखी होते रहोगे तो आप हमेशा दुखी ही रहोगे क्योंकि आपने अपनी ख़ुशी का रिमोट दुसरो के हाथ में दे रखा है और वो आपको चाहे जैसे चला सकते है।

अगर उनका मन आपसे बात करने का है तो वो आपको खुश कर देंगे वर्ना आपको इग्नोर करके आपको दुखी, इसलिए अपनी ख़ुशी का रिमोट हमेशा अपने पास रखिये किसी के आने से जाने से रूठ जाने से आपको कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए, अपने आप को खुश रखने की जिम्मेदारी आपकी खुद की है, इसलिए दुसरो की कभी भी इतना महत्व मत दो अपनी जिंदगी में, की आपके साथ खेल सके और आपका खुश रहना उन पर निर्भर रहे।

12. वर्तमान में कैसे खुश रहे ये सोचे

हम जो सबसे बड़ी गलती करते है की हम है वर्तमान में, पर अपने विचारो में हम भविष्य में जी रहे होते है, जैसे ये पाना है ये करना है हालाँकि भविष्य के बारे में सोचना गलत नहीं है, पर हम अपनी खुशिया भी भविष्य में तलाशने लग जाते है जबकि हम अभी वर्तमान में है इसलिए हमे ज्यादा से ज्यादा कोशिश करना चाहिए की अभी खुश कैसे रहे, अपनी लाइफ को अच्छे से कैसे जिए, कई बार हमारे पास कुछ मोके आते है पर हम हमेशा अच्छे मोके का इन्तजार करते रहते है अच्छी लाइफ जीने के लिए, इसिलए जरुरी है के आप भविष्य की प्लानिंग जरूर करे पर जहा है जैसे भी है वहा खुश कैसे रहे अपनी लाइफ को एन्जॉय कैसे करे ये कोशिश हमेशा करे और वर्तमान में खुश रहना सीखे ना की बीते हुए या आने वाले समय में।

अपने आप को बिजी कैसे रखे

Conclusion – Happiness in life in hindi

दोस्तों हम उम्मीद करते है हमने जो भी टिप्स बताये है वह आपके बहुत काम आयेंगे तो अगर आपका कोई सवाल है तो हमे कमेंट करके जरूर बताये और साथ ही यह भी बताये दोस्तों की आपको हमारा ये आर्टिकल Happiness in life in hindi ​कैसा लगा अगर आपको लगता है इसे किसी के साथ शेयर किया जा सकता है तो शेयर जरूर करे और कमेंट करके अपनी राय भी जरूर दीजिये धन्यवाद

Leave a Comment