Advertisements

सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर – सम्पूर्ण जानकारी

Advertisements

प्रेम या प्यार एक ऐसा एहसास है जिसका अनुभव हर किसी ने कभी न कभी किया ही होगा। प्यार से कोई भी अछूता नही रह है लेकिन इस दिखावटी दुनिया में यह तय कर पाना बड़ा ही मुश्किल हो जाता है कि सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर क्या है जिस वजह से कई लोगों को प्यार में धोखे का सामना भी करना पड़ जाता है।

कहते है कि प्यार अगर सच्चा हो तो अपने आप ही आपको महसूस हो जाता है और यह बात शत प्रतिशत सही भी है लेकिन आजकल प्यार के नाम पर कई लोग झूठा दिखावा भी करते है जिसे सच्चे प्यार और झूठे प्यार की पहचान कर पाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है ।

अगर आप भी इस परेशानी का सामना कर रहे है तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होने वाला है क्योंकि आज हम आपको इसी विषय से जुड़ी जानकारियां देने वाले है जिनमें सच्चा प्यार क्या  है ,  सच्चा प्यार कैसे पहचाने  , सच्चे प्यार के लक्षण , सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर आदि है।

सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर

सच्चा प्यार क्या है ( sachha pyar kya hota hai)

सच्चे प्यार के बारे में गहराई से जानने के लिए आपको सबसे पहले यह समझना होगा कि सच्चा प्यार किसे कहते है। असल में प्यार एक एहसास है जिसके रूप, रिश्तों के हिसाब से अलग अलग हो सकते है लेकिन मतलब एक ही होता है।

प्यार एक खूबसूरत एहसास है जिसमें दो दिल एक दूसरे से हमेशा के लिए जुड़ जाते है जैसे दो जिस्म एक जान हो। प्यार में दो लोग हर खुशी और हर गम को एक साथ मिलकर निभाते है। ये दिल से दिल तक का एक मजबूत रिश्ता है जो आसानी से नही टूटता है।  

सच्चा प्यार कैसे पहचाने (sacha pyar kaise pahchane)

जहाँ तक बात सच्चे प्यार की पहचान की है तो यह आज के समय में एक बहुत बड़ी चिंता का कारण भी बन चुका है क्योंकि अब न तो समय पहले जैसा है और न ही लोग अब पहले जैसे रहे है इसलिए सभी यह जरूर जानना चाहते है कि सच्चे प्यार की निशानी क्या होती है?  मिलावट की इस दुनिया मे अब दिल भी मिलावटी हो गए है जिसके वजह से न जाने कितने दिल रोज टूटते है और दिल टूटने के साथ ही साथ इंसान भी पूरी तरह से टूट जाता है इसलिए दिल लगाने से पहले सच्चे प्यार को पहचानना और भी ज्यादा जरूरी हो जाता है वैसे तो सच्चे प्यार को पहचानने के  तरीके कई हो सकते है जिसके बारे में आगे हम आपको बताने वाले है कि आप सच्चे प्यार को कैसे पहचाने :

1. आपके आत्मा से आवाज का आना

सच्चे प्यार की सबसे बड़ी पहचान यही है कि जब भी आपको किसी से सच्चा प्यार होता है या कोई व्यक्ति आपसे सच्चा प्यार करता है तो इसका एहसास आपको अपने आप होने लगता है। आपके आत्मा से एक आवाज सी आती है कि सामने वाले का प्यार सच्चा है जिसे हम दूसरे शब्दों में अंतर आत्मा की आवाज या इंस्टीट्यूशन भी कह सकते है। आपके अंदर की आवाज आपको इस बात का एहसास दिलाती है कि यही आपका true love यानी सच्चा प्यार है।

2. किसी भी तरह की शर्तें नही होती

सच्चा प्यार वही है जिसमें किसी भी तरह की शर्त नही होती है और जहाँ शर्त हो वह प्यार सच्चा नही बल्कि झूठा प्यार है। सच्चे प्यार में कभी भी सामने वाला आपके सामने किसी भी तरह की शर्त नही रखेगा । कई रिश्तों में पाया जाता है कि शर्तो को पूरा न कर पाने की वजह से भी रिश्तें टूट जाते है, ऐसे रिश्ते को क्या आप सच्चा प्यार कह पाएंगे जो कि एक शर्त के चलते टूट जाये।

3. आप जैसे है वैसे ही कबूले जाते है

सच्चे प्यार की सबसे बड़ी खूबी है कि आप जैसे हो वैसे ही कबूले जाते है । आपका पार्टनर अपनी इच्छा के अनुसार आप के अंदर किसी भी प्रकार का बदलाव करने की कोशिश नही करता है । सच्चे प्यार में दो लोग एक दूसरे को हर हाल में स्वीकार करते है। रूप रंग, भाषा और पैसों की सच्चे प्यार में कही भी जगह ही नही होती है। सच्चे प्यार में दो लोग एक दूसरे को उनकी खूबियों और खामियों दोनो ही के साथ अपनाते है।

4. रिश्तों में झूठ की जगह नही होती

झूठ एक ऐसा शब्द है जिसकी जगह किसी भी रिश्ते में नही होनी चाहिए । यही तो सच्चे प्यार की निशानी है कि इसमें दो प्रेमी न तो कभी भी एक दूसरे से झूठ बोलते है और न ही कुछ भी छिपाते है। बात चाहे कितनी भी कड़वी या दुखदायी हो अपने पार्टनर को हमेशा सच ही बताते है । जो लोग सच्चे प्यार में झूठ का बीज बोते है उनका प्यार कभी न कभी किसी गलतफहमी के कारण टूट ही जाता है। कहते है कि एक झूठ को छिपाने के लिए सौ झूठ बोलने पड़ते है इसलिए सच्चे प्यार में झूठ बोलने की कोई भी गुंजाइश नही होती है।

5. किसी भी तकलीफ का सामना करने को तैयार

सच्चे प्यार में दो लोग एक दूसरे के लिए हर तरह की तकलीफ उठाने को तैयार रहते है। सच्चे प्यार के रिश्तों में तेरा – मेरा जैसा कुछ भी नही होता है। यही तो कारण है कि प्रेमियों को ” दोजिस्म,एकजान ” कहा जाता है क्योंकि एक दुख में होता है तो तकलीफ दूसरे को होती है। सच्चे प्यार में दो आत्माएं ऐसे जुड़ जाते है जिसे दुनिया की कोई भी ताकत अलग नही कर पाती है।

सच्चे प्यार के संकेत ( sacche pyar ke sanket)

आपका दिल आपको सच्चा प्यार मिलने के संकेत कई तरह से देता  है जिससे आपको इस बात का आभास हो जाता है कि आपको चाहने वाले व्यक्ति का प्यार सच्चा है या झूठा तो चलिये जान लेते है कि सच्चा प्यार के लक्षण क्या है ताकि आप भी आसानी से अपने सच्चे प्यार के संकेत को पहचान सके कि जिससे आप प्यार करते है वो व्यक्ति सच्चा है या आपको भी सामने वाले से सच्चा प्यार है:

  • जब आप किसी से सच्चा प्यार करते है तो आपके ज़हन में हमेशा उसी व्यक्ति की छवि रहती है। अपने हर खुशी या दुखः के समय आप अपने सच्चे प्रेमी के बारे में ही सोचते रहते है।
  • सच्चा प्यार अपने प्यार की गंभीरता को समझता है इसलिए आपका पार्टनर आपकी बातों को तवज्जु देता है और आपके द्वारा कही गई कोई भी बात या आपके द्वारा लिए गए फैसले को पूरे आदर और गंभीरता के साथ स्वीकार करता है।
  • सच्चे प्यार का संबंध आत्माओं के मिलन से होता है । आजकल देखा गया है कि प्यार को सिर्फ जिस्मानी संबंध से जोड़ दिया जाता है लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नही होना चाहिए । सच्चे प्यार में दो आत्माएं एक दूसरे से जुड़ी हुई रहती है जिसमें जिस्मानी संबंध के होने न होने से कोई फ
  • सच्चे प्यार में घमंड की कोई जगह नही होती है। सच्चे प्रेमी अपनी गलती को स्वीकारते है और किसी भी प्रकार की गलती होने पर अपने पार्टनर से माफी भी मांगते है ताकि उनके रिश्ते में कोई भी खटास न आये।
  • सच्चे प्यार करने वाले एक दूसरे का ख्याल रखते है और हर छोटी – बड़ी मुश्किल में एक दूसरे का दामन थामे रहते है।
  • सच्चा प्यार आपको सम्मान देता है , आपका आदर करता है । कभी भी किसी दूसरे के सामने आपको नीचा नही दिखाता है और समाज मे आपको सम्मानजनक जीने का अधिकार दिलवाता है।
  • यदि कोई व्यक्ति आपसे सच्चा प्यार करता है तो वह कभी भी आपको धोखा नही देगा । सच्चा प्यार करने वाला हमेशा आपके साथ ईमानदार रहता है , जिस पर आप आंख मूंद कर भरोसा कर सकते है क्योंकि आपकी जो जगह उनके जीवन मे है कोई दूसरा उसकी भरपाई कभी कर ही नही सकता है।
  • सच्चा प्यार आप पर पूरी तरह से भरोसा करता है और आप भी अपने पार्टनर पर आंख मूंद कर भरोसा करते है क्योंकि सच्चे प्यार की नींव ही भरोसा होती है जिसमे दो लोग सच्चाई के डोर से बंधे हुए रहते है।

सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर ( sachhe pyar aur jhuthe pyar me antar)

आजकल प्यार शब्द का मतलब बहुत बदल चुका है । कपड़ों की ही तरह अब लोग हर दूसरे दिन प्यार भी बदल लेते है। प्यार को गर्लफ्रैंड – बॉयफ्रेंड जैसे शब्दों तक ही सीमित रख दिया गया है जहां दो लोग एकसाथ घूमने फिरने , खाने पीने और जिस्मानी संबंध बनाने को प्यार कहने लगे है लेकिन वास्तव में true love की पहचान इन सभी से अलग होती है।

सच्चा प्यार में किसी भी प्रकार की दिखावट और मिलावट की जगह ही नही होती है । चाहे आपके जीवन मे कितना भी उतार चढ़ाव आये , आपके सच्चे प्यार पर कोई असर नही दिखता है। अब कई लोगों को यह मुश्किल पेश आती है कि सच्चा प्यार और झूठा प्यार में अंतर क्या होता है तो चलिये इस बार मे विस्तार पूर्वक जान लेते है:

सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर 2

1. सच्चा प्यार ईमानदार होता है और झूठा प्यार बेईमान

प्यार दो लोगों के बीच अटूट संबंध का नाम है और true love हमेशा ही सच की बुनियाद पर टिका होता है। सच्चा प्यार हमेशा ईमानदार होता है जिसमे अपने पार्टनर से कुछ भी छिपाने जैसा नही होता है बल्कि सच्चे प्यार में दो लोगों के बीच सबकुछ पारदर्शी होता है वही झूठा प्यार आपके साथ कभी भी ईमानदार नही रहेगा। हर छोटी बड़ी बात पर आपसे सिर्फ झूठ ही कहेगा और बातों को छिपायेगा तो अगर आप भी true love or fake love में अंतर समझना चाहते है तो अपने पार्टनर की ईमानदारी  को जरूर परखना चाहिए।

2. सच्चा प्यार विश्वास करना जानता है

True love and fake love में दूसरा अंतर यह होता है कि सच्चा प्यार आपके द्वारा कही गई हर बात पर यकीन करता है यहाँ तक कि अगर आपके पार्टनर को पता भी हो कि आप किसी बात को छिपाने के लिए झूठ बोल रहे है तो आपका सच्चा प्यार इसके पीछे की वजह को जरूर समझेगा न कि आप पर शक करेगा और इल्जाम लगाएगा वही दूसरी ओर झूठे प्यार को इन सारी बातों से कुछ भी लेना देना नही होता है , इसमें आपका पार्टनर छोटी छोटी बातों पर भी आपके ऊपर शक करता है।

3. झूठा प्यार मतलबी होता है

जैसा कि आजकल के प्रेमियों को हमलोग देखते है कि प्यार सिर्फ गिफ्ट्स , शॉपिंग पर निर्भर हो गया है । प्रेम का मतलब लोगों के लिए हर दिन बदलता रहता है । ये सारी चीजें आपको सच्चे प्यार में देखने को नही मिलेगी। true love को लेन देन से कोई भी मतलब नही होता है अगर किसी चीज की जरूरत होती है तो वो है एक दूसरे के साथ वक्त बिताने की।

4. सच्चे प्यार के लिए सबसे कीमती आप ही होते है

जो आपसे सच्चा प्यार करता है उसके लिए दुनिया की सबसे खूबसूरत और कीमती चीज आप ही होते है वही अगर बार झूठे प्यार की बात करें तो इस प्यार का रंग कभी भी बदल जाता है अगर उसके जीवन में आपसे भी कोई ज्यादा  सुंदर  और धनी व्यक्ति आ जाए तो झूठा प्यार बड़ी ही आसानी से बदल जाता है जबकि सच्चे प्यार को इन सभी बातों से कोई भी फर्क नही पड़ता है और सच्चा प्यार इन बेकार की बातों से कभी नही बिखरता है।

5. सच्चा प्यार हर मुश्किल में साथ रहता है

कहते है कि अगर कोई आपके प्रति सच्चा है तो वो आपका हर मुश्किल में साथ जरूर  देता है और यही खासियत सच्चे प्रेम की भी है । true love हमेशा हर मुश्किल में आपके साथ बिना किसी प्रश्न के खड़ा रहता है और आपको आंच भी नही आने देता है तो वही fake love सिर्फ आपकी खुशियों में ही साथ देता है उसे आपके दुखों या तकलीफों से कोई सरोकार नही होता है।

6. सच्चा प्यार आपके साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताता है

आपने आजकल पार्क व हॉटेल आदि में देखा होगा कि दो प्रेमी मिलते है लेकिन उनका ध्यान एक दूसरे के साथ समय बिताने से ज्यादा kisses और touch करने में ज्यादा होता है लेकिन सच्चाई तो यह है कि सच्चे प्यार को लोगों के सामने ऐसा दिखावा करने की जरूरत नही पड़ती है। सच्चे प्रेमी तो एक दूसरे के साथ क्वालिटी टाइम बिता कर ही खुश हो जाते है।  

इस तरह आज के आर्टिकल में हमनें आपको सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर बतलाने की कोशिश की है। झूठे प्यार के कारण न जाने कितने ही मासूम दिल टूट जाते है । इससे लोग भावनात्मक आहत तो होते ही है और साथ ही में बहुत सारे लोग इस वजह से डिप्रेशन जैसी बीमारियों तक भी पहुँच जाते है । अतः हमें  उम्मीद है कि आज के इस अर्टिकल से आप सच्चे प्यार के इशारे को समझ पाए होंगे और true love and fake love में अंतर को भी समझ गए होंगे।

FAQ

कोई हमसे सच्चा प्यार करता है कैसे जाने?

जो आपसे सच्चा प्यार करता है वह आपकी बातो को सुनेगा और उसको गंभीरता से लेगा, वह दुसरो के सामने आपको कभी निचा नही दिखायेगा उसके लिए सबसे पहले आप रहोगे बाद में दूसरी लड़किया/लड़के।

सच्चे प्यार और झूठे प्यार की पहचान?

सच्चा प्यार करने वाला कभी भी आपको छोड़ कर नही जायेगा और लड़ाई होने पर वो आपसे आगे होकर बात करेगा, झूठे प्यार को सिर्फ एक बहाना चाहिए होगा आपको छोड़ने के लिए और छोटी सी लड़ाई होने पर उसकी गलती होने पर भी वह कभी भी आपसे आगे होकर बात नही करेगा।

Leave a Comment

सच्चे प्यार और झूठे प्यार में अंतर – जानकारी Twitter Se Paise Kaise Kamaye – टि्वटर से पैसे कैसे कमाए Internet se Paisa Kaise kamaye – जानिए कुछ बेहतरीन तरीके अच्छा बोलना कैसे सीखें | Speaking tips in Hindi विद्यार्थी घर बैठे पैसे कैसे कमाए -8 तरीके